ads

चीन में निवेश करने वाली ग्लोबल कंपनियां अब भारत में निवेश करेंगी

नई दिल्ली । भारतीय कंपनियां आइपीओ के जरिए अगले 6 माह में करीब 75,000 करोड़ रुपए जुटाएंगी। यह दावा ग्लोबल अकाउंटिंग फर्म केपीएमजी ने किया है। केपीएमजी इंडिया के कॉर्पोरेट फाइनेंस हेड श्रीनिवास बालासुब्रमण्यम के मुताबिक अमरीका में रेकॉर्ड डॉलर प्रिंट किए गए, जिसका सबसे अधिक फायदा भारत को हुआ है। दिसंबर तक कम से कम 35 कंपनियों के आइपीओ आने की संभावना है। सितंबर तक 42 कंपनियों ने आइपीओ के जरिए 67 हजार करोड़ रुपए जुटाए।

80 फीसदी निवेश भारत में आ रहा-
केपीएमजी इंडिया ने कहा कि चीन में सरकार की ओर से जारी क्रैकडाउन का फायदा भारतीय कंपनियों को मिलेगा। चीन में तेज विकास और भारी खपत के कारण ग्लोबल कंपनियां पहले 90 फीसदी पैसा वहां निवेश करती थी, लेकिन अब इनमें से 80 फीसदी निवेश भारत में आने की उम्मीद है। देश में तेज आर्थिक सुधार, टीकाकरण में तेजी और आरबीआइ से सहयोगात्मक रवैये से भी विदेशी निवेश बढ़ रहा है।

कंपनी - आइपीओ साइज
पेटीएम - 75,000
आधार हाउसिंग - 7,300
पॉलिसी बाजार - 6,000
अडानी विल्मर - 4,500
नायका - 4,000
(आइपीओ की राशि करोड़ रुपए में)



Source चीन में निवेश करने वाली ग्लोबल कंपनियां अब भारत में निवेश करेंगी
https://ift.tt/3v3x4ex

Post a Comment

0 Comments