ads

जब 13 साल की उम्र में इस कारण गोविंदा को चलने में होती थी दिक्कत, मां ने दिया ऐसा मंत्र कि दूर हो गई बीमारी

नई दिल्ली। बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर गोविंदा ने फिल्म इंडस्ट्री को कई ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं। 90 के दौर में उनका अलग ही जलवा हुआ करता था। उनकी बैक टू बैक कई फ़िल्में आईं थीं जिन्हें दर्शकों ने खूब पसंद किया। गोविंदा की एक्टिंग ही नहीं बल्कि उनके डांस और डायलॉग डिलीवरी के भी लोग फैऩ हुआ करते थे। आज भले ही वह फिल्मों में काफी कम नजर आते हों लेकिन उनका क्रेज आज भी लोगों में बना हुआ है। अब वह अपने एक इंटरव्यू के चलते सुर्खियों में आ गए हैं।

दरअसल, गोविंदा ने खुलासा किया कि एक वक्त ऐसा भी था जब वो ठीक से चल फिर भी नहीं पाते थे और बेहद कमज़ोर थे। गोविंदा ने बताया कि जब वह 13 साल के थे तब उनकी हड्डियां इतनी ज्यादा कमज़ोर थीं कि वो ठीक से चल फिर नहीं पाते थे। उसके बाद उन्होंने कहा कि जब वह 14 साल के हुए तो उन्हें उनकी मां ने 21 लाख बार गायत्री मंत्र पढ़ने की सलाह दी थी। जिसके बाद वह पूरी तरह ठीक हो गए। मां की सलाह के कारण गोविंदा आज तक कभी बीमार नहीं हुए।

यह भी पढ़ें: इस एक्टर के पिता ने ही खत्म कर दिया था अपना पूरा परिवार, जन्मदिन के दिन सबको गोली मार कर ली आत्महत्या

govi_1_6585725-m.jpg

वह कहते हैं कि मां का दिया हुआ वही विश्वास है कि मैं आज तक फिर दोबारा उतना बीमार कभी नहीं पड़ा। ऐसे में गोविंदा ने अपनी सफलता का श्रेय मां को ही देते हैं। बता दें कि हाल ही में गोविंदा ने अपनी पत्नी सुनीता आहूजा को करवाचौथ के मौके पर एक महंगा तोहफा दिया है, जिसके चलते वह काफी चर्चा में हैं।

यह भी पढ़ें: जब मैच में मंसूर अली खान के बुरे प्रदर्शन के लिए शर्मिला टैगोर के पिता ने उन्हें लगा दी थी फटकार

गोविंदा ने ब्रांड न्यू बीएमडब्ल्यू कार गिफ्ट की है। इसकी तस्वीर शेयर करते हुए उन्होंने सुनीता के लिए लिखा, "मेरी सबसे अच्छी दोस्त, मेरी जिंदगी का प्यार, मेरे दो खूबसूरत बच्चों की मां. करवा चौथ की शुभकामनाएं। आई लव यू. तुम्हारे लिए मेरा प्यार का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। पर आज के लिए इस छोटे से गिफ्ट से माप लेना। तुम इस दुनिया में और भी बहुत सारी खुशियां डिजर्व करती हो। लव यू माई सोना।"



Source जब 13 साल की उम्र में इस कारण गोविंदा को चलने में होती थी दिक्कत, मां ने दिया ऐसा मंत्र कि दूर हो गई बीमारी
https://ift.tt/3nxaTKt

Post a Comment

0 Comments