ads

Anupama 9th September Written Update: अनुपमा के परिवार के साथ अनुज कपाड़िया के मनाया जन्मदिन, बढ़ती नज़दीकियों से परेशान वनराज

नई दिल्ली। शो में अनुज कपाड़िया की एंट्री के बाद से सीरियल में दिलचस्प मोड़ आ गया है। अनुज और अनुपमा की बढ़ती नजदीकियां सभी को काफी पसंद आ रही है, लेकिन दूसरी ओर वनराज को अनुपमा के साथ किए बुरे बर्ताव की एक याद सता रही है। वहीं दूसरी ओर काव्या अनुज कपाड़िया का फायदा उठाने की बात कह रही है। काव्या ने सोच लिया है कि वो जल्द से जल्द अनुज का सहारा लेकर सारी परेशानियों से छुटकारा पा लेगी।

परिवार संग सेलिब्रेट किया अनुज कपाड़िया ने ब्रथर्ड

अनुपमा का पूरा परिवार धूमधाम से जन्माष्टमी का त्योहार मनाते हैं। राधा-कृष्णा बनी सभी जोड़ियां बड़े ही प्यार से भगवान कृष्णा का आशीर्वाद लेते हैं। इसी दौरान सभी अनुज कपाड़िया का बर्थडे सेलिब्रेट करते हैं। अनुज के दादा जी बताते हैं कि ये पहला जन्मदिन है जब अनुज सब के साथ मना रहा है। वैसे हमेशा वो दोनों ही उसका बर्थडे सेलिब्रेट करते हैं। बॉ पूछती है कि घर में कोई और नहीं है? अनुज बताता है कि 20 साल पहले ही उनके माता-पिता गुजर गए थे। अनुज अनुपमा और उनके परिवार को शुक्रिया कहता है कि उन्होंने इतना प्यार दिया।

अनुज किया अनुपमा के परिवार का शुक्रिया

अनुज और उसके काका पूरे परिवार से मेहमान नवाजी के लिए शुक्रिया कहते हैं और जानें लगते हैं। इसी दौरान वनराज कारखाने को लेकर बात छेड़ देता है। अनुज बताता है कि जब उसकी टीम कोई नहीं कहती तब तक वो कुछ नहीं कर सकता है। अनुज वनराज को कहता है कि उनके पास अगर और कुछ आइडिया है तो वो अनुपमा के साथ आकर ऑफिस में बता दें। काव्या खूब कोशिश करती है कि वो अनुज से बात करें लेकिन अनुज ऑफिस में ही बात करने को कहता है।

अनुपमा-अनुज की दोस्ती से जला वनराज

अनुज और उसके काका को अनुपमा के घर से निकलते हैं। अनुपमा गेट पर खड़ी रहती है। वनराज ये देखकर उस पर ताना कासते हुए कहता है कि दरवाजे पर लड्डू बंट रहे हैं जो वो यहां खड़ी है। अनुपमा भी जवाब देते हुए कह देती है कि तमीज बंट रही है थोड़ा वो भी ले ले। अनुपमा वनराज को बताती है कि बॉ हमेशा कहती है कि जब मेहमान जाया करते हैं तो पीठ नहीं दिखाना चाहिए। वनराज मन ही मन सोचता है कि वो अब मेहमान कहां रह गया है। घर में सबका दोस्त बन गया है।

समर-नंदनी को लेकर परेशान अनुपमा

अनुज और उसके काका को छोड़ने के बाद काव्या अनुपमा को रोक लेती है और उससे पूछती है कि क्या उसने अनुज कपाड़िया का नंबर लिया? अनुपमा मना कर देती है। ये बात सुनकर काव्या हैरान हो जाती है। काव्या कहती है कि वो देविका से नंबर ले ले। अनुपमा का ध्यान तभी समर और नंदनी पर जाता है। जो घर के बाहर खड़े होकर लड़ रहे होते हैं। काव्या देखती है कि अनुपमा उसकी बात ही नहीं सुन रही है इसलिए वो फिर से अनुपमा को देविका को फोन करने को कहती है। अनुपमा काव्या से कहती है कि घर की डायरी में देविका का नंबर लिखा हुआ है। वो खुद उसे फोन मिलाकर अनुज कपाड़िया का नंबर ले ले।

समर ने शेयर की मां संग परेशानी

समर मां अनुपमा को बताता है कि उसका नंदनी पर से विश्वास उठ गया है। अनुपमा समर को बताती है कि विश्वास करना जरूरी है। समर बताता है कि वो उसके होते हुए भी अपने एक्स रोहन से बात करती थी। अनुपमा बताती है कि वो भी तो अपने एक्स हसबैंड के साथ एक ही घर में रहती है और बात करती है। तो वो भी गलत है। अनुपमा समर को कहती है कि जिस तरह से वो रिएक्ट कर रहा है। इसी वजह से उसने बताया नहीं। अनुपमा समर से पूछती है कि वो नंदनी को खोने से डर रहा है। समर कहता है कि हां, अनुपमा कहती है कि नंदनी भी यही सोच कर डर रही होगी। तभी उसने नहीं बताया।

अनुज कपाड़िया को लेकर एक्साइटेड काव्या

वहीं दूसरी ओर वनराज काव्या को नंदनी को समझाने को कहती है। लेकिन काव्या कहती है कि ये समर और नंदनी के बीच की बात है। वो क्या करेगी। तभी काव्या अनुज कपाड़िया के बारें में बात करने लगती है। काव्या वनराज से अनुज के नामों को लेकर बातचीत करती है साथ ही बताती है कि कैसे अब अनुज उनका दोस्त बन गया है। वनराज काव्या को थमने के लिए कहता है।

अनुज-काका ने किया अनुपमा के केक को एन्जॉय

वहीं दूसरी ओर अनुज और काका अनुपमा के केक को एन्जॉय कर होते हैं। काका और अनुज बीते दिनों को याद करते हैं। याद करते हैं कि कैसे अनुज के माता-पिता के जानें के बाद से सब बिखर गया था। अनुज बताता है कि कैसे उसकी जिंदगी में एक शख्स आया और उसने उसकी जिंदगी एक पल में बदल डाली उसने बस कड़ी मेहनत की थी। अनुज काका से कहता है कि वो चाहता है कि वो भी किसी की यूं मदद करें। तभी अनुज काका से केक का डिब्बा छीन लेता है और फिर हार्डकोर एक्सरसाइज करने को कहता है। केक के डिब्बे पर अनुपमा का नाम लिखा होता है। जिस पर अनुज हाथ फेरता है। ये देख काका रोमांटिक गाना गाने लगते हैं।

अनुपमा ने कान्हा जी से मांगा साथ

वनराज अनुज कपाड़िया के आने के बाद से काफी परेशान है। वो अपनी उम्र को लेकर काव्या से पूछता है लेकिन काव्या ढंग से जवाब नहीं देता है। वहीं दूसरी ओर अनुपमा कान्हा से प्रार्थना करती है यूं ही उनकी जिंदगी में सब ठीक रहे।

( Precap- काव्या और वनराज अनुज कपाड़िया के ऑफिस में पहुंचते हैं। जहां काका को देख काव्या हैरान हो जाती है और अनुज को अपनी सीट पर उन्हें बिठाने को लेकर बात कहती है। ये सुनकर अनुज भड़क जाता है और काव्या को करारा जवाब देता है। तभी अनुपमा भी अनुज के ऑफिस में आ जाती है। वनराज अनुपमा को अलग आने को लेकर ताना देता है। जिसे अनुज सुन लेता है।)



Source Anupama 9th September Written Update: अनुपमा के परिवार के साथ अनुज कपाड़िया के मनाया जन्मदिन, बढ़ती नज़दीकियों से परेशान वनराज
https://ift.tt/2Vx3D7y

Post a Comment

0 Comments