ads

कादर खान के बड़े बेटे का हुआ निधन, अभिनेता का भी हुआ था दुखद अंत

नई दिल्ली | बॉलीवुड के उम्दा एक्टर दिवंगत कादर खान के सबसे बड़े बेटे अब्दुल कुद्दुस का निधन हो गया है। अब्दुल कनाडा में रहते थे जहां वो एयरपोर्ट पर सिक्योरिटी अफसर के तौर पर कार्यरत थे। अब्दुल, कादर खान की पहली पत्नी के बड़े बेटे थे। विरल भयानी ने अब्दुल के निधन की जानकारी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर दी है। साल 2018 में कादर खान ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया था।

मौत से पहले टूट गए थे कादर खान

कादर खान के बड़े बेटे के निधन ने लोगों को एक बार फिर दिवंगत अभिनेता की याद दिला दी है। कादर ने 81 साल की उम्र में 31 दिसंबर, 2018 को दुनिया को अलविदा कह दिया था। 300 से ज्यादा फिल्में करने वाले कादर खान के अंतिम दिनों में कोई उनके साथ नहीं था। कहते हैं कि कादर खान का कनाडा जाने का कारण उनका दर्द था। कादर खान को फिल्म इंडस्ट्री से किनारे सा कर दिया गया था जिसकी उन्हे बेहद दुख था। उनके दूर होने के बाद किसी ने उनसे उनका हालचाल भी नहीं पूछा इस बात ने भी उन्हें अंदर तक तोड़ दिया था। कादर खान को सिर्फ अमिताभ बच्चन फोन किया करते थे और उनके बारे में पूछते थे। वहीं ढेरों फिल्में करने के बाद भी कादर को पद्मश्री सम्मान नहीं मिला इस बात की कसक भी हमेशा उनके मन में रही।

ये भी पढ़े- सना खान को पति ने पिलाई सोने की कॉफी, बुर्ज खलीफा के टॉप फ्लोर पर दिया महंगा तोहफा!

परिवार ने कादर से कर लिया था किनारा

कादर खान को लगता था कि उन्होंने सालों फिल्म इंडस्ट्री में काम किया लेकिन फिर भी सब उन्हें भूल गए। वहीं रिपोर्ट्स की मानें तो कादर खान का ख्याल रखने वाला कोई नहीं था। उनका परिवार भी उनसे दूर हो गया था क्योंकि उन्होंने इंडस्ट्री में अपने बेटों की सिफारिश किसी से नहीं की। उनका बड़ा बेटा जिसका अब निधन हो गया है अब्दुल कुद्दुस वही उनका ख्याल रखा करता था। कादर खान को ऐसी कई बातों ने बुरी तरह से तोड़ दिया था।

कादर खान को हुई थी ये बीमारी

वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कादर खान निधन से पहले पांच दिनों तक कोमा में रहे थे। उन्होंने पांच दिनों तक कुछ भी नहीं खाया था। किसी बात भी नहीं कर पा रहे थे। कादर खान आखिरी दिनों में इशारों से अपनी बात कहा करते थे। उन्हें प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लियर पाल्सी नाम की बीमारी थी जिसे न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर कहते हैं। जिसके कारण कई शारीरिक दिक्कते आती हैं। शरीर में मूवमेंट बंद हो जाता है, खाना खाने में परेशानी होने से लेकर मानसिक दशा भी बदलती रहती है। इस बीमारी के चलते मरीज 7 से 8 साल तक ही जीवित रह पाता है।

दो बेटे करते हैं इंडस्ट्री में काम

बता दें कि कादर खान के तीन बेटे हैं। जिनमें दो बेटे सरफराज और शहनवाज खान फिल्म इंडस्ट्री में ही काम करते हैं। सरफराज खान फिल्म प्रोड्यूसर होने के साथ साथ एक एक्टर के तौर पर भी काम कर चुके हैं। उन्होंने फिल्म सलमान खान की तेरे नाम में असलम का किरदार निभाया था। इसके अलावा वो वॉन्टेड में भी नजर आए थे।

kadar1.png

Source कादर खान के बड़े बेटे का हुआ निधन, अभिनेता का भी हुआ था दुखद अंत
https://ift.tt/3fu48Xv

Post a comment

0 Comments