ads

मिथुन चक्रवर्ती को देख जब जितेन्द्र ने कहा था- 'ये काला हीरो बन गया तो मैं छोड़ दूंगा मुंबई'

नई दिल्ली। हिंदी सिनेमा जगत बेशक समय के साथ काफी आगे बढ़ गया हो, लेकिन आज भी दर्शकों के दिल और दिमाग में गुज़रे जमाने के अभिनेता और अभिनेत्रियों की ही छवि बसी हुई है। आज भी पुराने जमाने के कलाकारों को लेकर कई ऐसे किस्से मशहूर हैं। जिन्हें सुनकर लोग आज भी हैरान हो जाते हैं। आज हम आपको बॉलीवुड के दो दिग्गज सुपरस्टार्स जितेन्द्र और मिथुन चक्रवर्ती से जुड़ा ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं। जिसे जान आपको भी पता लगेगा कि एक कलाकार के लिए उसके सपनों को पूरा करना इतना आसान नहीं होता।

mithun chakraborty feroz khan

फिरोज खान ने मिथुन चक्रवर्ती की थी बेइज्जती

यह किस्सा उस दौरान का है। जब फिरोज खान बॉलीवुड के चमकते सितारे बन चुके थे और मिथुन चक्रवर्ती काम के लिए स्ट्रगल कर रहे थे। फिरोज खान एक पॉपुलर एक्टर ही नहीं बल्कि एक मशहूर फिल्म प्रोड्यूसर भी थे। यही वजह थी कि वह अपनी फिल्मों में वह कास्टिंग बड़ी ही सोच समझकर करते थे। उस वक्त फिरोज खान 'कुर्बानी' फिल्म बना रहे थे और वह उस किरदार के लिए बड़ा ही दमदार किरदार ढूंढ रहे थे।

 

फिल्म 'कुर्बानी' के लिए फिरोज खान की पहली पसंद अमिताभ बच्चन थे, लेकिन इस फिल्म को करने से अमिताभ बच्चन ने साफ मना कर दिया था। यह जानकार फिरोज काफी दुखी हुए थे। इस फिल्म के दौरान ही वह मिथुन चक्रवर्ती से मिले थे। इस दौरान फिरोज ने मिथुन की ओर देखा और उन्हें देखते ही कहा कि "वह हीरो नहीं बल्कि विलेन बनने तक लायक नहीं है।" यह बात सुनते ही मिथुन चक्रवर्ती का दिल टूट गया और बिना कुछ कहे ही वह वहां से निकल गए।

यह भी पढ़ें- रेप केस में फंसे एक्टर Mithun Chakraborty के बेटे Mahaakshay ने की शादी तस्वीरें हुईं वायरल, देखें Photos

jeetendra

अभिनेता जितेन्द्र ने उड़ाया था मिथुन चक्रवर्ती के रंग का मज़ाक

जिस वक्त मिथुन चक्रवर्ती बॉलीवुड में काम पाने के लिए स्ट्रगल कर रहे थे। तब उनका रंग काफी डार्क हुआ करता था। उस समय काम मांगते हुए वह एक फिल्म निर्माता के ऑफिस जा पहुंचे। उस दौरान उस ऑफिस में जितेन्द्र भी मौजूद थे। जब उन्हें पता चला कि मिथुन फिल्मों में काम मांगने के लिए आए हैं। तब उन्होंने मिथुन के काले रंग का मज़ाक उड़ाते हुए कहा कि "अगर इस काले को अगर हीरो के लिए फिल्म मिल जाए तो मैं मुंबई छोड़ दूंगा।" जैसे ही यह बात मिथुन ने सुनी वह काफी दुखी हुए और नीचे गर्दन किए वहां से चले गए।

Manmohan Desai

फिल्ममेकर मनमोहन देसाई ने 10 रुपए देकर निकाला था

यह किस्सा उस वक्त का है जब मिथुन काम मांगने के लिए फिल्ममेकर मनमोहन देसाई के ऑफिस पहुंचे थे। वहां मिथुन ने जब उनसे कहा कि उन्हें फिल्म में कोई छोटा सा रोल दे दो। तो उन्होंने काफी लंबे समय तक मिथुन को देखा और फिर उनके हाथों में 10 रुपए थमाते हुए उन्हें वहां से जाने को कहा। यह देखते हुए मिथुन चक्रवर्ती को बहुत बुरा लगा, लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने हीरो बनने का सपना नहीं छोड़ा।

mithun chakraborty

स्ट्रगल के दिनों में सोते थे खाली पेट

काले रंग के चलते मिथुन चक्रवर्ती के लिए हीरो बनने का सफर इतना आसान नहीं था। इंडस्ट्री में काम पाने के लिए मिथुन चक्रवर्ती सड़क पर रात गुज़राते थे। साथ ही बिना कुछ खाए ही वह अपना गुज़रा करते थे। लेकिन फिल्म डिस्को डांसर के सुपरहिट होने के बाद वह रातोंरात सुपरस्टार बन गए और उनके पास नई फिल्मों की लाइन लग गई।



Source मिथुन चक्रवर्ती को देख जब जितेन्द्र ने कहा था- 'ये काला हीरो बन गया तो मैं छोड़ दूंगा मुंबई'
https://ift.tt/3rWPKtg

Post a comment

0 Comments