ads

3000 चीनी सैनिकों से भिड़ने वाले 125 भारतीय सैनिकों की अनकही कहानी, देखें '1962: The War in Hills'

मुंबई। सच्ची घटनाओं से प्रेरित हॉटस्टार स्पेशल्स '1962: द वॉर इन द हिल्स' ( 1962: The War In the Hills ) उन सैनिकों की कहानी है, जिन्होंने बिल्कुल मामूली हथियारों से लैस होने के बाद भी खुद से बहुत ज्यादा बड़ी संख्या में घुसपैठ कर रहे सैनिकों को वहीं रोक दिया। यह सेना के इतिहास की सबसे बड़ी मुठभेड़ों में से एक है।

यह भी पढ़ें : शाहिद की पत्नी मीरा की पीठ पर ये टैटू देख बोले लोग- मोदी है तो मुमकिन है, जानिए क्यों

10 एपिसोड की सीरीज
एरे स्टूडियो के साथ साझेदारी में प्रोड्यूस किए गए इस 10 एपिसोड के इस युद्ध ड्रामा की कहानी चारुदत्त आचार्य ने लिखी है। इसका निर्देशन बॉलीवुड के महेश मांजरेकर ने किया है। उन्होंने न केवल युद्ध का खूबसूरती से चित्रण किया है, बल्कि सैनिकों के व्यक्तिगत जीवन एवं देश सेवा के लिए उनका बलिदान भी दिखाया है।

साहसी बटालियन की अनकही कहानी
लगभग 60 साल पहले हमारे सैनिकों ने हमारे देश के अभिन्न अंग, लद्दाख की रक्षा के लिए अदम्य साहस एवं बहादुरी का परिचय दिया। यह लड़ाई हम आज तक लड़ रहे हैं। सच्ची घटनाओं से प्रेरित 1962 की कहानी, '1962: द वॉर इन द हिल्स' अन्य सभी वॉर ड्रामा से अलग है क्योंकि यह 3000 चीनी सैनिकों से भिड़ने वाले उन 125 साहसी सैनिकों की अनकही कहानी है, जिनकी बहादुरी ने युद्ध की कहानी बदल दी।

पॉवर-पैक्ड एक्शन सीक्वेंस
'1962: द वॉर इन द हिल्स' में सी-कंपनी बटालियन के सैनिकों का रोमांचक एक्शन सीक्वेंस है! इसकी एक्शन कोरियोग्राफी 'पाइरेट्स ऑफ द कैरिबियन', 'स्टार ट्रेक' जैसी फिल्मों के कोरियोग्राफर डॉन ली ने की है। उन्होंने हर सैनिक को लड़ाई का एक अलग तरीका देने के साथ सीरीज़ में सभी एक्शन सीक्वेंस को कोरियोग्राफ किया है।

अभय देओल अभिनीत
अभिनेता अभय देओल ( Abhay Deol ) और माही गिल ( Mahi Gill ) ने 2009 के बाद इस सीरीज़ में पहली बार स्क्रीन साझा की है। इस वॉर ड्रामा सीरीज़ में आकाश थोसर, सुमीत व्यास, रोहन गंडोत्रा, अनूप सोनी, मेयांग चेंग, रोशेल राव, हेमल इंगले आदि मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। चाहे सैनिक हों, उनके परिवार या फिर अन्य मुख्य किरदार, इन सभी कलाकारों ने इस सीरीज़ को और ज्यादा दिलचस्प बनाने के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

एक आम वॉर सीरीज़ से अलग
युद्धभूमि में साहस और बहादुरी के अलावा, इस वॉर सीरीज़ में सैनिकों का पारिवारिक जीवन भी दिखाया गया है। युवा सैनिकों को प्यार होने से लेकर पिता बनने की चुनौतियों तक ये कहानियां सभी दर्शकों को अपने जीवन से जुड़ी लगेंगी।

यह भी पढ़ें : प्रियंका चोपड़ा को फिगर पर यूजर ने दिया 'ज्ञान', एक्ट्रेस ने ऐसे दूर की गलतफहमी

संगीत ट्रैक
'1962: द वॉर इन द हिल्स' का संगीत व्यूईंग के अनुभव में सुधार कर कहानी की अनेक भावनाओं- चाहत, गर्व एवं देश सेवा की भावनाओं को उभारकर लाता है। इस सीरीज़ में सात गाने हैं, जो हितेश मोदक ने कंपोज़ किए हैं। ये गाने सुखविंदर सिंह, विजय प्रकाश, सलमान अली द्वारा गाए गए हैं। ‘हम शान से जलने निकले हैं’ का ओरिज़नल साउंड ट्रैक एक सैनिक के बलिदानों की कहानी कहता है। इसके कवर पर आदित्य नारायण, मोनाली ठाकुर एवं रघु दीक्षित दिखाई देते हैं।



Source 3000 चीनी सैनिकों से भिड़ने वाले 125 भारतीय सैनिकों की अनकही कहानी, देखें '1962: The War in Hills'
https://ift.tt/3rmkSTP

Post a comment

0 Comments