ads

budget 2021: Nirmala Sitharaman ने तोड़ी अपनी ही पंरपरा, पारंपरिक बही-खाते की जगह टैबलेट से पेश करेंगी बजट

नई दिल्ली। देश को मिली आजादी के बाद पहला बजट पहले वित्त मंत्री आर.सी.के.एस. चेट्टी ने 1947 में पेश किया था, तब बजट के दस्तावेज चमड़े के एक ब्रीफकेस में रखकर पेश किए जाते थे। और इस परंपरा को देश के हर वित्त मंत्री ने काफी लंबे समय तक निभाया। लेकिन जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनीं तो उन्होंने इस परंपरा को तोड़ दिया। और 5 जुलाई 2019 को चमड़े के बैग की जगह लाल कपड़े में लिपटा बजट दस्तावेज संसद भवन में पेश किया, जो असल में भारतीय बहीखातों का ही स्वरूप है। इसके बदलने का मकसद भी यही था कि देश का बजट-देश का बही खाता होता है।

यह भी पढ़ें:- Budget 2021: लाल कपड़े में लिपटा आता है आम बजट, अंग्रेजों के जमाने से चली आ रही पुरानी परंपरा को भाजपा सरकार ने तोड़ा

लेकिन अब इस परंपरा को खुद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने तोड़ दिया है। इतिहास में पहली बार बजट (Budget 2021) में कई तरह के बदलाव देखने को मिले। इस बार का बजट पूरी तरह से पेपरलेस होगा और बजट भाषण व दस्‍तावेज सॉफ्ट कॉपी में ऑनलाइन उपलब्‍ध होंगे।

न ब्रीफकेस, न बहीखाता से टैब से बजट पढ़ेंगी वित्त मंत्री

इस बार हुए बदलाव में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अपने हाथ में लाल रंग के कपड़े से लिपटा वही खाता नही होगा बल्कि मेड इन इंडिया (Made in India) टैबलेट का उपयोग करेंगी निर्मला सीतारमण। इस बार संसद में बजट पारंपरिक बही-खाते की जगह टैबलेट से पेश किया जाएगा, जो डिजिटल इंडिया का एक संकेत भी है।

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से इस बार का बजट पूरी तरह से पेपरलेस है और इसलिए वित्त मंत्री टैबलेट के जरिए बजट पढ़ेंगी



Source budget 2021: Nirmala Sitharaman ने तोड़ी अपनी ही पंरपरा, पारंपरिक बही-खाते की जगह टैबलेट से पेश करेंगी बजट
https://ift.tt/3aj0wn3

Post a comment

0 Comments